क्या हुआ जब भारतीय सेना का सामना हुआ alien से सच्ची घटना

 आखिर क्या हुआ जब भारतीय सेना के जवानों का सामना एक alien से हो गया यह घटना दिल दहलाने वाली है



  • UFO को लेकर किए गए दावे
  • दिखाए गए फोटो और वीडियो

Aliens और ufo को लेकर अक्सर बहस चलती रहती है. लेकिन ऐसा पहली बार हुआ है जब अमेरिकी संसद की एक कमेटी के सामने UFO को लेकर सुनवाई हुई है. 'एलियन एक्टिविटी' को लेकर जितनी भी जानकारी अभी तक अमेरिकी खुफिया विभाग ने कलेक्ट की है वह सब इस सुनवाई में साझा की गई.

करीब 50 वर्षों में UFO से संबंधित यह पहली सार्वजनिक सुनवाई है, जो कि एक सरकारी रिपोर्ट सामने आने के साल भर बाद हुई है. इसमें 2004 से अमेरिकी सैन्य पायलटों द्वारा रिपोर्ट की गई 'अज्ञात हवाई घटना' के 144 उदाहरण शामिल थे. सुनवाई के दौरान अज्ञात फ्लाइंग ऑब्जेक्ट यानी UFO के कुछ वीडियोज और तस्वीरें दिखाई गईं. 

इसको लेकर पेंटागन के शीर्ष खुफिया अधिकारी रोनाल्ड मौल्ट्री और नौसेना के उप निदेशक स्कॉट ब्रे ने पैनल के सामने गवाही दी. स्कॉट ब्रे ने कहा कि UFO देखे जाने की घटनाएं पिछले कुछ दशकों में काफी बढ़ी हैं. 

सुनवाई के दौरान एक क्लिप दिखाई गई और दावा किया कि ये नौसेना के विमान के कॉकपिट से ली गई थी. क्लिप में एक अज्ञात गोल आकार की वस्तु दिखाई दे रही. एक अन्य क्लिप में दो छोटे त्रिभुज के आकार की वस्तुएं उड़ते हुए दिख रही हैं. कहा गया कि इन्हें नाइट विजन गॉगल्स के माध्यम से देखा गया था. 

अमेरिकी खुफिया विभाग ने दिखाई तस्वीर

अलग-अलग समय पर ली गई इसी तरह की दूसरी तस्वीरों में रात के आसमान में चमकते त्रिकोण दिखाई दे रहे हैं. तस्वीरों और वीडियो को दिखाते हुए ब्रे ने कहा कि चमकते त्रिकोणों के वीडियो और फोटो कुछ समय तक अनसुलझे रहे, लेकिन अंततः इन्हें 'मानव रहित हवाई वाहनों' के रूप में पहचाना गया.

हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि हमें अभी भी यह नहीं पता है कि वीडियो में अज्ञात दिख रही चीज हकीकत में क्या वस्तु हो सकती है? रिपोर्ट में कहा गया है कि डेटा 'काफी हद तक अनिर्णायक' था.

सुनवाई के दौरान बताया गया कि सेना के पास अबतक कथित यूएफओ की 400 से अधिक रिपोर्टें हैं. जिनमें 11 बार तो सैन्य कर्मियों का उनसे बेहद नजदीक से आमना-सामना हुआ. रिपोर्ट में कहा गया कि इन वस्तुओं को 'अलौकिक जीवन' से जोड़ा जा सकता है, भले ही अभी तक कोई ठोस सबूत नहीं मिले हैं. हालांकि, ऐसी घटनाओं को विदेशी गतिविधि की आशंका से भी जोड़कर देखा जाता है.

और नया पुराने