Yaddasht badhane ke gharelu nuskhe

हेलो एंड वेलकम दोस्तों आप सब का बहुत-बहुत स्वागत है हमारे ब्लॉग वेबसाइट खबरी जी में जैसा कि आप सब को ज्ञात है कि हमारे इस वेबसाइट पर आप लोगों को हर बीमारी के आयुर्वेदिक घरेलू नुस्खे बताए जाते हैं जिनके उपयोग से आप घरेलू तरीके से किसी भी बीमारी से छुटकारा पा सकते हैं इन आयुर्वेदिक नुस्खों कि सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि अंग्रेजी दवाओं की भांति इनके साइड इफेक्ट नहीं होते हैं।

https://www.khabriji.xyz/2020/02/yaddasht-badhane-ke-gharelu-nuskhe.html


तो दोस्तों आज हम जो आपको बताने जा रहे हैं उस पर बहुत से लोग इस पर ध्यान नहीं देते जी हां हम बात कर रहे हैं कमजोर याददाश्त भूलने की बीमारी या बहुत ही गंभीर बीमारी है आजकल के समय में बहुत कम लोग इस पर ध्यान देते हैं पर आपको क्या पता है! 

कि कमजोर याददाश्त का घरेलू तरीके से इलाज किया जा सकता है!
आज हम ऐसे ही आपको कुछ घरेलू नुस्खे जो आपकी कमजोर याददाश्त की समस्या को जड़ से दूर करके आपको बेहतरीन इम्यूनिटी सिस्टम प्रदान करेगा

(१). आपको 4 या 5 बादाम ले लेने हैं अभी इन्हें रात भर पानी में भिगो दें फिर सुबह इसका छिलका उतारकर इन बादाम को पीस लें अब इसे दूध के साथ नियमित रूप से सुबह सेवन करने से जल्द ही स्मरण शक्ति बढ़ जाती है।

(२). कलौंजी और शहद को एक एक चम्मच लेकर नियमित रूप से सुबह इसका सेवन करें 1 हफ्ते लगातार इस्तेमाल करने पर आपको आपकी याददाश्त में फर्क दिखने लगेगा आप इसका से 1 दिन में दो बार भी कर सकते हैं अच्छे नतीजे पाने के लिए। यह एक बढ़िया घरेलू तरीका माना गया है याददाश्त बढ़ाने के लिए।

(३). आंवले का प्रयोग प्राचीन काल से याददाश्त को बढ़ाने के लिए किया जाता रहा आप आंवले का चूर्ण या आंवले का मुरब्बा का सेवन प्रतिदिन करना शुरू करिए इससे मेमोरी बढ़ती है।

(४). मक्खन और काली मिर्च का सेवन भी स्मरण शक्ति को बढ़ाता है इसके लिए आपको दो चम्मच मक्खन में थोड़ी सी काली मिर्च मिलानी है अब इसमें स्वाद के लिए थोड़ी चीनी भी मिला लीजिए प्रतिदिन इस चटनी को चाटने से तेज गति से स्मरण शक्ति बढ़ती है
यदि किसी छोटे बच्चे को खिलाना है तो आप आधा चम्मच खिलाइए।

(५). चुकंदर का रस पीने से स्मरण शक्ति बढ़ती है इसके लिए आप प्रतिदिन एक चुकंदर का रस निकाल कर यदि सेवन करते हैं तो इसके नियमित इस्तेमाल से याददाश्त मजबूत होने लगती है इसके सेवन से शरीर में खून भी बनता है।

(६). आपको एक चम्मच घी एक निवाला रोटी पर लगाकर उसमें चीनी मिलाकर प्रतिदिन सेवन करना है इससे दिमागी शक्ति तो बढ़ती ही है और यह आंखों की रोशनी के लिए भी बहुत अच्छा साबित होता है तथा या आंखों की रोशनी बढ़ाने में अत्यंत लाभकारी है।

(७). रात को सोते समय आपको अपने सिर में घी की मालिश करनी है यदि घी गाय का हो तो बहुत अच्छा रहता है। इसकी मालिश आपको प्रतिदिन 2 हफ्ते तक करना है इससे आपकी याददाश्त काफी ज्यादा बढ़ जाती है इसे भी याददाश्त का एक बेहतरीन आयुर्वेदिक नुस्खा माना गया है । क्योंकि कि हमारे मस्तिष्क में जाकर नसों को शांत करता है तथा मांसपेशियों को उर्जा भी देता है।

(८). अखरोट का सेवन करने से याददाश्त तेजी से बढ़ती हैक्योंकि अखरोट खाने से शरीर में पोषक तत्वों की कमी दूर होती है अखरोट में मौजूद ओमेगा 3 फैटी एसिड प्रोटीन फाइबर तथा एंटी ऑक्सीडेंट भी पाया जाते हैं बेहतर परिणाम के लिए आपको अखरोट और किशमिश मिलाकर सेवन करना है इसके लिए आपको 20 ग्राम अखरोट में 10 ग्राम किशमिश मिलानी है इसके सेवन से इम्यूनिटी सिस्टम बूस्ट होता है याद रखने योग्य बात यह है कि आप गर्मी में इसका सेवन कम करें क्योंकि अखरोट गर्म होती है।

(९). आपको एक चम्मच सौंफ पाउडर लेना है अब इसमें एक चम्मच शहद मिलाना है याद रहे शहद शुद्ध होना चाहिए अब इस मिश्रण को अच्छे से मिला लेना मिलाकर आपको प्रतिदिन इसका सेवन 2 हफ्ते तक करना है इससे भूलने की बीमारी में काफी फायदा मिलता है।

(१०). खट्टा मीठा टमाटर न केवल स्वादिष्ट होता है बल्कि इसका सेवन हमारी दिमाग में मौजूद ब्रेन सेल्स को डैमेज होने से बचाता है इसमें प्रोटीन और वसा के साथ-साथ इसमें कार्बोहाइड्रेट कम मात्रा में पाया जाता है तथा इसमें लाइकोपीन पाया जाता है जो शरीर की फ्री रेडिकल्स से रक्षा करता है। तो इसके सेवन से दिमाग तेज होता है याददाश्त बढ़ती है और आपके चेहरे पर निखार भी आता है।

(११). जैसा कि आप सब जानते हैं दही में प्रोटीन कार्बोहाइड्रेट वसा खनिज लवण कैल्शियम और फास्फोरस पर्याप्त मात्रा में पाए जाते हैं इसका नियमित इस्तेमाल करने से कई लाभ होते हैं यह शरीर में जीवाणुओं की बढ़ोतरी करता है और हानिकारक जीवाणुओं को नष्ट करता है इसमें अमीनो एसिड पाया जाता है जिससे दिमागी तनाव दूर होता है और दिमाग का विकास होता है तथा याददाश्त बढ़ती है।

(१२). जैसा कि आप सब जानते हैं दूसरी एक बहुत ही गुणकारी और क्षति भी मानी गई है इसका उपयोग करने से कई बीमारियों में लाभ होता है तथा प्रतिदिन इसकी 24 पत्तियां खाने से भूलने की बीमारी दूर हो जाती है।

(१३). आपकी याददाश्त बढ़ाने के लिए ग्रीन टी एक बहुत ही महत्वपूर्ण साबित हो सकती हैं इसमें पाया जाने वाले पॉलीफेनॉल दिमाग को संतुलित रखता है या दिमाग को शांत करता है तथा तनाव को दूर करता है ग्रीन टी बहुत से गुणों से भरपूर है इसमें बहुत अधिक मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट पाए जाते हैं यदि आप इसका सेवन नियमित रूप से करते हैं तो आपका शरीर और दिमाग दोनों स्वतंत्र रूप से कार्य करते हैं जिसके फलस्वरूप याददाश्त बढ़ती है।

(१४). हल्दी के औषधीय गुणों को कौन नहीं जानता आयुर्वेद में हल्दी का बहुत महत्वपूर्ण स्थान है हल्दी याददाश्त बढ़ाने की तथा और भी कई बीमारियों की बेहतरीन औषधि है जो सिर्फ एक खाने में डालने का मसाला नहीं बल्कि इसके सेवन से कई बीमारियां दूर होती हैं जैसे अल्जाइमर का रोग नहीं होता है साथिया दिमाग की क्षतिग्रस्त कोशिकाओं को रिपेयर करने में मदद करती है हल्दी के पानी का सेवन में काफी बीमारियों में लाभदायक है।

(१५). आप मेहंदी ही के पौधे की कुछ पत्तियां तोड़ कर इन्हें मसल कर कुछ देर इन्हें सूंघने से स्मरण शक्ति बहुत तेजी से बढ़ती है इसका एक फायदा यह भी है कि इससे दिमाग के कीड़े भी मरते हैं यह सबसे सरल और बहुत अधिक फायदेमंद घरेलू नुस्खा है।

तो दोस्तों यह तो थी स्मरण शक्ति बढ़ाने की घरेलू नुस्खे यदि आपको इसमें बताया गया कोई भी ना उसका समझ में नहीं आता तो आप हमसे कमेंट करके पूछ सकते हैं हम आपके कमेंट का उत्तर जरूर देंगे।
धन्यवाद।
 Team khabriji.xyz