अश्वगंधा के फायदे - ashwagandha ke fayde

हेलो दोस्तों आप सब का एक बार फिर से बहुत-बहुत स्वागत है! दोस्तों आज हम बात करेंगे ashwagandha के बारे में पहले तो दोस्तों आप इसके नाम से ही समझ जाइए कि इसे अश्वगंधा क्यों कहते हैं इसको अश्वगंधा इसलिए कहा जाता है|
ashwagandha-ke-fayde
ashwagandha ke fayde









himalaya ashwagandha

क्योंकि आप इस पौधे के किसी भी अंग को मसल कर lagayge. तो आपको घोड़े जैसी स्मेल आएगी तो बात साफ है इसीलिए इसको अश्वगंधा कहा जाता है लेकिन क्या आप जानते हैं अश्वगंधा एक प्राचीन समय से उपयोग होने वाली बहुत ही जबरदस्त आयुर्वेदिक औषधि है पुराने समय से इसका इस्तेमाल आयुर्वेद में होता चला आ रहा है! इसी पर बात करते हुए आज हम जानेंगे अश्वगंधा के कुछ महत्वपूर्ण फायदे आइए जानते हैं!

patanjali ashwagandha मसल्स बनेगी मजबूत –

मसल्स हमारी बॉडी का महत्वपूर्ण हिसा है , इसलिए इनका फिट रहना आवश्यक है । अगर एक बार मसल्स वीक हो जाए तो हमें कई बीमारियों का सामना करना पड़ सकता है । मसल्स को फिट रखने के लिए हम संतुलित डाइट के साथ – साथ । आयुर्वेदिक औषधियों का सेवन भी कर सकते हैं । इतना ही नहीं इससे हमारी मसल्स तो मजबूत होगी ही साथ ही शरीर भी हेल्दी रहेगी । 

कौन – कौन सी आयुर्वेदिक औषधियां ले सकते हैं अश्वगंधा , शतावरी , केंच के बीज , बला बीच , सफेद मूसली , काली मूसली . विधयेरा , सालन मिश्री , सलाम पंजा आदि औषधियां असल्स को सबूत बनाती हैं । मसल्स को ताकत देती हैं । हर व्यक्ति को अपनी पाचन शक्ति के हिसाब से । औषधि लेनी चाहिए । वहीं , इन औषधियों का 2 से 5 शाम तक सेवन आराम से कर सकते है ।

दिमाग के लिए अश्वगंधा के फायदे-

अश्वगंधा को प्राचीन समय से ना केवल दिमाग तेज करने की याददाश्त बढ़ाने बल्कि आपके कंसंट्रेशन पावर को बढ़ाने और स्ट्रेस को भी कम करने के लिए इसका प्रयोग किया जाता रहा है अश्वगंधा के प्रयोग से न केवल हमारी दिमागी शक्ति मजबूत होती है बल्कि इस से भी छुटकारा मिलता है इसका नियमित प्रयो ग करते रहने से bipolar disorder obsessive compulsive disorder परेशानियों से भी छुटकारा मिलता है.

खून से जुड़ी परेशानियां-

दोस्तों अश्वगंधा की सबसे बड़ी खासियत यही है! कि यह आपकी blood codicil को कम करती है आपको बता दें! ब्लड कॉर्टिसोल दरअसल स्ट्रेस हार्मोन सोते हैं! यदि आप बहुत अधिक समय तक डिप्रेशन में रहते हैं! कोई आपकी शरीर में बहुत ज्यादा बढ़ जाता है! जिसके कारण बड़ी समस्याएं उत्पन्न हो सकती हैं! आपको बता दें 90% कि इसमें नींद ना आने का कारण डिप्रेशन होता है! इसीलिए बड़े बड़े डॉक्टर अश्वगंधा लेने की सलाह देते हैं! इसे डिप्रेशन को खत्म कर दिया जाता है! और इंसान में इनसोम्निया की समस्या खत्म हो जाती है! जिससे बेहतर नींद आती है! और शरीर रिलैक्स हो जाता है।

दिल के लिए फायदेमंद-

दोस्तों अश्वगंधा हर्ट के लिए बहुत फायदेमंद आयुर्वेदिक औषधि है अश्वगंधा का इस्तेमाल उन लोगों को जरूर करना चाहिए जिनके परिवार ने कोई दिल की परेशानी से पीड़ित है ऐसे ceses में यह देखा गया है किया बीमारी पारिवारिक रूप से चलती है और वंश के साथ साथ बढ़ती चली जाती है.

कैंसर से बचाव में कारगर-

दोस्तों आज जिस प्रकार हमारी लाइफ भागदौड़ भरी हो चली है! और हम इस प्रदूषण से भरे हुए वातावरण में रहते हैं! अनियंत्रित खानपान लेते हैं! उसने हमारी लाइफ में कोई भी नियंत्रित नहीं रह गया है! इसके कारण कैंसर भी होने का खतरा काफी वक्त पर देखा जाता रहा है! लेकिन आप अश्वगंधा का इस्तेमाल करके कैंसर जैसी गंभीर बीमारी अपने से दूर रख सकते हैं।

इम्यूनिटी को बढ़ाएं-

जैसा कि हम जानते हैं! यदि हमारा इम्यून सिस्टम मजबूत होगा! तो हमारे ऊपर कोई भी बीमारी नहीं कर सकती! ऐसे ही इम्यूनिटी को बढ़ाने के लिए तमाम लोग बाजार से विभिन्न प्रकार की दवाओं को खरीद कर उपयोग करते हैं लेकिन उनके साइड पर कभी सामने आते रहते हैं लेकिन अश्वगंधा क्योंकि आयुर्वेदिक औषधि है उसका कोई भी साइड इफेक्ट नहीं होता और इसके इस्तेमाल से हमारा इम्यून सिस्टम काफी बेहतर हो जाता है।

अश्वगंधा के कुछ बड़े फायदे-

दोस्तों पर तो हमने कुछ फायदे बताएं जो कि छोटे फायदे होते हैं लेकिन अब हम आपको अश्वगंधा का इस्तेमाल करने के कुछ और बड़े फायदे बताने जा रहे हैं अश्वगंधा को मर्दों का टॉनिक कहा जाता है अश्वगंधा का इस्तेमाल करने से हमारे शरीर में मसल्स बनते हैं! इसके लिए काफी लोग महंगे महंगे प्रोटीन का इस्तेमाल करते हैं! 

अश्वगंधा को नियमित रूप से प्रयोग करने से हड्डियों की चौड़ाई बढ़ती है जिससे हमारी हड्डियां काफी मजबूत रहती हैं और तीसरा फायदा इसका यह है यह किसी भी व्यक्ति को आभास हो भारी बनाता है जिससे किसी भी मर्द की मर्दानगी का पता चलता है।

आइए जानते हैं इसे इस्तेमाल करने का तरीका ashwagandha benefits in hindi

दोस्तों आपके मन में जो भी सवाल आया होगा कि अश्वगंधा वह कितना और कब इस्तेमाल करना तो इसके लिए आपको सबसे पहले पंसारी की दुकान पर जाकर अश्वगंधा की सूखी जल खरीद लेना अभी जड़ को मिक्सी में डालकर बारीक पाउडर बना लें अश्वगंधा का या 5 ग्राम बारीक पाउडर लेकर 20 ग्राम गाय के शुद्ध देसी घी में मिलाकर इसमें 20 ग्राम शहद या मिश्री मिला लें अब इसे लगभग आधा किलो दूध में डालकर एक उबाल आने तक पकने दीजिये! 

आपको इस नुस्खे का इस्तेमाल सुबह खाली पर करना है इसमें याद रखने योग्य बात हुआ है यह आपको इस नुस्खा इस्तेमाल करने की बाद नाश्ता नहीं करना सीधा दोपहर का खाना ही खाना हैदोस्तों यदि आप अपने अंदर वाकई में कमाल के बदलाव देखना चाहते हैं| तो इस नुस्खे का इस्तेमाल कम से कम 1 साल तक जरूर करें उसका इस्तेमाल के बाद आप अपने अंदर बेहद कमाल के बदलाव जरूर देखेंगे। आपको यह लेख कैसा लगा हमें कमेंट करके जरूर बताए साथ ही अगर आपका कोई सवाल है तो भी आप कमेंट में पूछ सकते हैं...

और नया पुराने