10 अश्लील फिल्में जो बैन होने के बाद भी धड़ल्ले से देखी जा रही Youtube पर

ये बॉलीवुड में फिल्में बनाना जितना मुश्किल है उससे ज्यादा मुश्किल उसे सेंसर बोर्ड में पास करवाना है। फिल्म को सिनेमाहॉल तक पहुंचने के लिए सेंसर बोर्ड की तरफ से हरी झंडी की ज़रुरत होती है। सेंसर बोर्ड सभी फिल्मों को उसके चरित्र के आधार पर उनकी बारीकी से जांच करता है।



अगर सारा मामला ठिक होता है तो फिल्म आगे के लिए पास कर दी जाती है लेकिन अगर फिल्म बोर्ड के मापदंड में फिट नहीं बैठती वो उसे बैन कर दिया जाता है। बॉलीवुड में ऐसा तामाम फिल्मों की लिस्ट है जिसे सेंसर बोर्ड ने बैन कर दिया। ये फिल्में कभी रिलीज ही नहीं हुई। लेकिन इनमें कई फिल्में यूट्यूब पर अपलोड कर दी गई। आज हम आपको ऐसी ही दस फिल्मों के नाम बताने जा रहे हैं जिसे सेंसर बोर्ड ने बैन कर दिया था लेकिन ये Youtube पर अब भी उपलब्ध हैं।

1- अनफ्रीडम Unfreedom- साल 2015 में आई इस फिल्म को सेंसर बोर्ड ने इसलिए बैन कर दिया क्यों कि ये फिल्म दो लड़कियों के संबंधों पर आधारित थी। –

2- पांच (Panch) भी विवादित फिल्मों में से एक है। सेंसर बोर्ड ने इसमें कई कट लगाए लेकिन उसके बाद भी ये फिल्म रिलीज ना हो सकी और इसे बैन करना पड़ा।

3- यूआरएफ प्रोफेसर (URF Professor) इसको भी बोल्ड दृश्यों की वजह से सेंसर बोर्ड से हरी झंडी नहीं मिल पाई।

4- बैंडिट क्वीन (Bandit Queen) इस फिल्म की चर्चा पूरी दुनिया में थी। ये फिल्म बोल्ड सीन्स, गाली-गलौज और न्यूड सीन के चलते काफी विवादित रही थी। –

5- फायर (Fire) इस फिल्म में शबाना आज़मी अभिनय कर रही थीं। ये भारत की पहली मेनस्ट्रीम फिल्म थी जिसमें होमोसेक्सुअल रिश्तों की कहानी थी। इसका विरोध पूरे देश में हुआ था जिसकी वजह से इसे बैन करना पड़ा।

6- वॉटर Water: ये फिल्म विधवाओं के जीवन पर आधारित थी। इस फिल्म को लेकर भारत में इतना विवाद हुआ था कि इसे भारत में शूट नहीं होने नहीं दिया गया। इसकी शूटिंग श्रीलंका में की गई।

7- द पेंटेड हाउस (The Painted House) ये फिल्म एक एक बूढ़े शख्स और जवान लड़की के बीच के संबंधों पर आधारित है। इसके कंटेंट की वजह से इसे बैन कर दिया गया लेकिन ये यूट्यूब पर मौजूद है।

8- ब्लैक फ्राइडे Black Friday: अनुराग कश्यप की ये फिल्म 1993 में हुए मुंबई हमले पर आधारित थी। लेकिन सेंसर बोर्ड ने इसके रिलीज़ पर रोक लगा दी।

9- कामसूत्र 3डी (Kamasutra 3D) कामुक दृश्यों की वजह से सेंसर बोर्ड ने इस फिल्म को हरी झंडी ही नहीं दी लेकिन ये यूट्यूब पर देखि जा सकती है।