शादी की पहली रात में तलाक। True moral story

Hello friends कैसे हो? उम्मीद है! कि सब खैरियत से होंगे! अल्लाह आप लोगों को ऐसे ही खुश रखे! चलिए आज की story की तरफ बढ़ते हैं।

https://www.khabriji.xyz/2020/08/true-moral-story.html?m=1


 बहुत पुरानी बात है। एक लड़की की शादी हुई। शादी की first night में लड़का जब कमरे में enter हुआ। तो उसके हाथ में एक बड़ा सा थाल था। मतलब एक बड़ा सा बर्तन था। और उसके अंदर खाने पीने की बहुत सारी चीजें थी। क्योंकि उस प्लेट के अंदर से बहुत जबरदस्त खुशबू आ रही थी। 

वह प्लेट दुल्हन के पास लेकर आया। और दुल्हन के सामने, वह खाना रख कर कहने लगा। कि आओ हम खाना खाते हैं। क्योंकि मैंने भी खाना नहीं खाया। और आपने भी खाना नहीं खाया। आओ खाना खाते हैं।

एक शहजादी के 3 सवाल | princess ki kahani

तो जो बीवी थी वो नई नवेली दुल्हन थी। उसने कहा कि ठीक है। बहुत अच्छी बात है। हम दोनों खाना खाते हैं। लेकिन मैंने देखा है। कि आपकी वालिदा यानी आपकी mom जो हैं। उन्होंने भी खाना नहीं खाया है। 

वो भी बहुत मेहमानों में और दूसरों को खाना खिलाने और घरेलू काम करने में बहुत busy थी। मैंने देखा है कि अभी तक उन्होंने खाना नहीं खाया है।

आप एक काम करो। आप अपने मां को बुला लो  हम तीनों मिलकर साथ में खाना खाते हैं  खाने के बाद तुम्हारी mom चली जाएगी। इतना सुनते ही लड़के ने ऐसे ignor करने के अंदाज में कहा। कि वह सो गई होगी। उन्हें छोड़ो ना हम खाना खाते हैं।

तो उस नई नवेली दुल्हन ने कहा। कि "नहीं अच्छा नहीं लगता। आपकी मां है। खाना नहीं खाए दिन भर काम कर रहे थे। आप बुला लो ना साथ में खाना खाते हैं। वो भी खाने के बाद चली जाएगी। मुझे अच्छा नहीं लग रहा है। 

लेकिन लड़का कहने लगा। कि तुम छोड़ो रहने दो ना हम खाना खाते हैं। वो अभी सो गए होगे। सुबह सुबह उठ कर खा लेगी। लेकिन बीवी बार-बार pressure डालते रही। अपने नए नवेले दूल्हे हो। आप जाओ अपनी mom को लेकर आओ।

Lakadhara aur Pariyon ki kahani - हिंदी कहानी

 लेकिन वह इग्नोर करता रहा। जब लड़की ने दूल्हे का अपनी मां की प्रति व्यवहार देखा। तो उसी वक्त दुल्हन ने तलाक लेने का जिक्र कर दिया। बोली मुझे तुम्हारे साथ नहीं रहना है। मुझे अभी तलाक चाहिए। मुझे इसी वक्त तुमसे छुटकारा चाहिए।

 सोहर बड़ा shocked हुआ। उसकी आंखें फटी की फटी रह गई। अपनी नई नवेली दुल्हन की जबान से friest night में इतना बड़ा decision। बहुत request की फरियाद की। और वजह जानी चाही। लेकिन लड़की अपनी बात बनी रही।

 उसने कहा कि मुझे तलाक चाहिए। तो चाहिए किसी भी हाल में और अभी चाहिए इसी वक्त। by the way जब वह अपनी बात पर अड़ी रही। और बिल्कुल वह गुस्से में थी। At least वह लड़की अपनी तालाब के अडी रही। जब तक कि उसको तलाक मिल नहीं गई।

 आखिरकार दोनों के बीच में जुदाई हो गई। तलाक हो गई। उसके बाद दोनों अपनी अपनी जिंदगी के सफर पर निकल गए। दोनों ने दूसरी शादी करली। 25 साल भी गुजर गये थे। 

जो औरत तलाक लेकर गई थी। उसके दो बेटे भी हुए। जो अपनी मां का बहुत ध्यान रखते थे। अपनी मां की बहुत care करते थे। एक बार ऐसा हुआ। औरत ने हज का इरादा किया। तो उनके बेटों ने हां कर दी। और उस time पर कोई प्लेन वगैरा। तो थे नहीं।

 तब ज्यादातर लोग रास्तों का सफ़र करते थे। अपने घोड़ों पर या कोई और जानवर के ऊपर वह सफर करते थे। तो यह सफर कर रहे थे। तो सफर में भी। वो बच्चे अपनी मां का बहुत ख्याल रख रहे थे। और care कर रहे थे।

 वह अपनी मां का पैर जमीन पर नहीं दे रहे थे। रास्ते से चलते चलते इस औरत एक आदमी दिखा जो भूखा प्यासा और कपड़े फटे हुए, पुराने से थे। वो  किनारे पर बैठा हुआ है। उस औरत ने अपने बेटों से कहा कि उस आदमी को देख कहां से आया है। और इस हालत में क्यों है?

cinderella ki kahaniya in hindi for kids

उस के आदमी से जाकर कैफियत पूछो। हाल चाल पूछो उसके कपड़े कपड़े बदला दो। इतना सुनते ही उसके दोनों बेटे गए। और उस आदमी को नहलाया धुलाया। और नए कपड़े पहनाए। 

 उस औरत की नजर जब आदमी पर पड़ी। वह shocked रह गई। अरे यह तो मेरा पहला वाला पति है। जिससे मैंने तलाक ले ली थी। उसने पूछा। अरे तुम्हारे साथ ये क्या हुआ। वक्त ने तुम्हारे साथ क्या किया? क्यों इतने बुरे हाल में हो? वो आदमी आहें मार मार कर रोने लगा।

 और कहने लगा कि मेरी औलाद ने मेरी नाफरमानी की। मेरे साथ बुरा सलूक किया। मेरी सारी property लूट ली। और मुझे मार कर घर से निकाल दिया। तो वो औरत कहने लगी। तुम्हारी औलाद तुम्हारे साथ ऐसा ही करने वाली थी।

 तुमने कौन सा अपने मां-बाप के साथ अच्छा सलूक किया था। मैं उसी रात मैं जान गई थी। कि तुम अपने मां बाप के लिए कुछ नहीं करते। तुम उनके प्रति अपना हक अदा नहीं करते। इसलिए मैं समझ गई थी। कि कल को मेरे साथ भी ऐसा ही होगा।

 आज देखो तुम्हारी औलाद को देखो और मेरी औलाद को देखो। मेरी औलाद तो मेरे पैर को जमीन पर पड़ने ही नहीं से रहे। आज तुम कहां हो। और मैं कहां। लिहाज़ा अपने मां बाप की इज्ज़त और care करो। तभी तुम्हारी औलाद भी तुम्हारी केयर करेंगी!

Chanakya niti : कैसा व्यक्ति फैसला लेकर बर्बाद हो सकता है!

तो मेरे भाइयों बहनों और दोस्तों मां बाप के साथ अच्छा सलूक करो। मां बाप के साथ बुरा सलूक अल्लाह की नाफरमानी है  अगर अपना बुढ़ापा शानदार गुजारना चाहते हो। तो अपने मां बाप के साथ शानदार सलूक करो।

 क्योंकि यह एक ऐसा काम और अमल है। जिसका बदला दुनिया में ही दे दिया जाता है। किसी ने क्या खूब कहा है। कि...

मां-बाप के साथ अच्छा सलूक एक ऐसी किताब है। जो तुम्हें बुढ़ापे में पढ़नी है। 

जैसा तुम ने अपने मां-बाप के साथ किया होगा।  मामला तुम्हारे साथ बुढ़ापे में होने वाला हैं।

जैसे को तैसा-

दोस्तों यहां पर जैसे को तैसा वाली कहावत बेहद ही सटीक बैठती है और यकीन मानिए बिल्कुल 100 फ़ीसदी सत्य बात है। कि जिस प्रकार आप अपनी मां बाप के साथ अपनी जवानी में शुरू करेंगे कि उसका बदला आप अपने बुढ़ापे में पाएंगे और इस चीज से कोई भी बच नहीं सकता। इसीलिए हम सबको हमेशा यही सिखाया जाता है। कि अपने से बड़ों का आदर करो अपने मां-बाप की सेवा करो और उनकी दुआ लो यही आपकी सफलता में भी बहुत अहम रोल निभाती है। यदि आपके पास मां बाप की दुआ नहीं है वह उस सफलता मिलने के chance ना के बराबर है।

और इसीलिए अपनी हर पोस्ट में मैं इस बिंदु पर प्रकाश जरूर डालता हूं कि आपकी सक्सेस आपकी कॉमर्स हृदय और आपके स्वाभाव पर टिकी होती है यदि आपका हृदय कोमल है। स्वभाव दूसरों के प्रति मधुर है तो आप क्यों सफलता जरूर मिलेगी और इसके विपरीत यदि आज का स्वभाव बेहद कठोर है तो आपको सफलता नहीं मिल सकते और जब आपको सफलता ही नहीं मिलेगी। तो आपका जीवन अंधकार में हो जाता है जिसकी कोई भी मंजिल नहीं होती है।

अल्लाह  हमको अपने मां बाप की कदर और फिक्र करने की तौफीक नसीब फरमाए।

ये कहानी मध्यप्रदेश के राशिद साहब ने लिख भेजी है। 

यदि आपके पास Hindi में कोई article, inspirational story या जानकारी है जो आप हमारे साथ share करना चाहते हैं तो कृपया उसे अपनी फोटो के साथ E-mail करें. हमारी Id है: mrsyt2500@gmail.com पसंद आने पर हम उसे आपके नाम और फोटो के साथ यहाँ PUBLISH करेंगे।

Thanks!