3 दिन में चेहरे पर काले धब्बे दूर करने के लिए - घरेलू उपचार

हमारे चेहरे पर दोस्तों एक चीज किसी को भी नहीं पसंद वह है बार-बार पिंपल और कील मुहांसों का निकलना और इन्हें एक बार से हटाने के लिए ही हम कई तरह की दवाइयां और कई तरह के घरेलू उपचार अपनाते हैं लेकिन इस तरह से पिंपल जाने के बाद वह चेहरे की दूसरी तरफ आ जाता है।

https://www.jankari.xyz/2021/10/skin-care-tips-hindi.html

जिससे समय के साथ में चेहरे पर कई तरह के निशान और दाग धब्बे छोड़ जाता है और इसका मुख्य कारण है चेहरे पर ज्यादा मात्रा में गंदगी का इकट्ठा हो जाना। यदि आप पिंपल्स को नाखून से फोड़ते हैं या जोर से खुजला देते हैं।

तो यह निशान बहुत गहरे रंग की पड़ जाते हैं।तब दोस्तों सवाल यह खड़ा होता है कि Pimple Ke Daag Kaise Mitaye? इसलिए आज हम आपके लिए लाए हैं वह देसी नुस्खे जो आपके चेहरे से कील मुंहासे दाग धब्बे होने के बाद उसे हटाने के लिए कारगर होता है।

किन लोगों को होती है यह समस्या?
दोस्तों पिंपल्स की समस्या सबसे ज्यादा उन लोगों को होती है जिनकी त्वचा तैलीय होती है जिनकी त्वचा पर तेल जैसा रहता है तैलीय त्वचा में जब त्वचा के रोम छिद्र तेल के कारण बंद हो जाते हैं!

तब मुहासे निकलना शुरू होते हैं। तो आज हम पिंपल्स से बचने के तरीके एवं पिंपल्स के निशान हटाने के घरेलू उपाय बताने वाले हैं इसे आप ध्यानपूर्वक पढ़ें।

सबसे पहलेेेेेेेे हम जानेंगेे कील मुंहासे होने के कारण (Causes of Acne Scars in Hindi)-
आमतौर पर हमारे चेहरे पर पिंपल जो मुहासे निकालने का मुख्य कारण हमारी गलत आदतें और गलत खानपान होता है हम लोग जाने अनजाने में अत्यधिक तले हुए भोजन जैसे- फिंगर चिप्स चार्ट स्नैक्स वगैरा बहुत ज्यादा सेवन करते हैं जिस कारण मुहासे निकलने की संभावना काफी हद तक बढ़ जाती है।


क्योंकि यह सब भोजन बहुत ही तैलीय होता है और मार्केट में मिलने वाला तेल बेहद घटिया क्वालिटी का होता है जो हमारी स्किन को काफी हद तक इफेक्ट करता है बेहतर होगा कि आप बाहर के तले हुए भोजन को अवॉइड करें जो एक बहुत ही अच्छा फैक्टर साबित होगा कि मुहांसों का छुटकारा करने के लिए।


इसके अलावा हमारे चेहरे पर दाने या कील मुंहासे होने का कारण हमारे असंतुलित जीवन शैली है और संतुलित जीवन शैली में हमारे दैनिक क्रिया आती हैं बेहतर होगा!


कि आप अपनी जीवनशैली में बदलाव करें और समय-समय पर अपनी बचा के लिए अपनी जीवनशैली परिवर्तित करते रहें इसमें आप योगाभ्यास भी कर सकते हैं जिससे काफी हद तक फायदा मिलता है।

Pimple के निशान पड़ने के कारण-
अधिकतर मुंहासे होने के बाद हमारे त्वचा पर गहरे निशान छोड़ जाते हैं जो देखने में बहुत ही भद्दे एवं बदसूरत लगते हैं हम में से कोई भी नहीं चाहता कि उसके चेहरे पर मुहांसे के बदसूरत गहरे निशान पड़े लेकिन यह निशान हमारी गलतियों की वजह से ही पड़ते हैं!

इसका मुख्य कारण है कि मुंहासे होने पर आप नाखून से उसे डैमेज करते हैं ऐसा करने पर नाखून में जो बैक्टीरिया होते हैं।

वह मुंहासे पर लग जाते हैं जिस कारण हमारी त्वचा कई सारी गंभीर बीमारियों में भी गिर सकती है। इससे बचने के लिए जितना हो सके मुहांसे की जगह को साफ सुथरा रखें बार-बार चेहरे पर हाथ लगाने से बचें!

बार-बार चेहरे पर हाथ लगाने से हमारे हाथों पर जो कीटाणु हैं वह हमारे चेहरे पर पहुंच जाते हैं। क्योंकि चेहरे की स्किन बहुत ही नाजुक होती है इसलिए या कीटाणुओं से जल्द ही संक्रमित हो जाती है।

पिंपल के दाग कैसे मिटाएं? (Home Remedies for Pimple Marks in Hindi)
दोस्तों पिंपल सही हो जाने के बाद में जो हमारे त्वचा पर गहरे काले निशान छोड़ जाते हैं उनको देखने के बाद एक ही सवाल उठता है कि पिंपल के दाग कैसे मिटाएं अब हम आपको पिंपल के निशान मिटाने के देसी घरेलू नुस्खे बताने जा रहे हैं।

जो बेहद ही प्रभावशाली ढंग से कार्य करते हैं और तेजी से आपकी स्किन से मुंहासे के निशान हटाते हैं और आपकी त्वचा को चमक दमक भी प्रदान करते हैं।

नारियल का तेल -
मित्रों नारियल का तेल एक बहुत ही बेहतरीन एवं कारगर देसी इलाज साबित होता है जहां पर बात आती है पिंपल्स के निशान हटाने के बारे में इस नुस्खे के लिए आपको थोड़ा सा नारियल का तेल अपने हाथों पर लेना है उसके बाद सीधे मुंहासे के निशान वाली जगह पर लगाना है

ध्यान रहे आपको किसी अच्छी कंपनी का नारियल का तेल ही यूज करना है क्योंकि लोकल नारियल का तेल आपकी त्वचा को हानि भी पहुंचा सकता है या फिर छोटे छोटे दाने भी पढ़ सकते हैं।

नारियल का तेल हमारी त्वचा के लिए काफी लाभप्रद होता है इसमें विटामिन ई पाई जाती है जो काफी हद तक त्वचा को संक्रमण से बचाती है और कई प्रकार के लाभ पहुंचाती है!

दो चम्मच गुलाब जल-

दोस्तों खूबसूरती की बात हो तो गुलाब जल काफी जगह हमारी मदद करता है या पिंपल्स के निशान हटाने के लिए भी फायदेमंद साबित हो जाता है इसके लिए आपको एक चम्मच बेसन लेना है।

अब इसमें आप दो चम्मच गुलाबजल डालें और फिर कुछ बूंद नींबू का रस डालें अब इन तीनों चीजों को अच्छे से मिलाकर गिला पेस्ट तैयार कर लें बेस्ट इतना ढीला रखे हैं जितना आपकी skin पर आराम से लग सके।

अब आपको इस पेस्ट को अपने चेहरे पर लगाना है क्योंकि इस नुस्खे में बेसन गुलाब जल और नींबू है तो आप इसे रात में सोते समय लगा ले और फिर सुबह उठकर धो दें हफ्ते में 3 बार इस नुस्खे को आजमाएं जल्द ही असर दिखने लगेगा।

इनके अलावा सिर्फ गुलाब जल को भी रुई की सहायता से मुंहास के निशान पर लगा सकते हैं या देसी नुस्खा आपके चेहरे को गुलाबी चमक में प्रदान करता है।

शहद है कारगर-
मुहांसों के निशान हटाने के लिए शहद बेहद ही कारगर साबित हो सकता है इसके लिए आपको एक चम्मच शहद में 5 से 6 बूंद नींबू का रस मिलाना है अब इस मिश्रण को अब अपनी त्वचा पर लगा ले!

इस मिश्रण को लगाने के बाद 15 मिनट के बाद अपना मुंह धो लें यहां देसी नुस्खा मुंहासे के निशान हटाने के साथ-साथ चेहरे को glow भी प्रदान करता है।

और हमारी त्वचा चमकने लगती है इसका असर आपको तुरंत ही दिखने लगता है। यदि आप कहीं शादी है पार्टी में जाने वाले हैं तो भी आप इस नुस्खे को 10 मिनट तक अपने चेहरे पर लगा ले उसके बाद चेहरा धो दें या आपकी त्वचा के रंग को तत्काल ही कुछ हद तक निखार देता है।
 
एलोवेरा जेल-
दोस्तों आजकल लगभग हर व्यक्ति एलोवेरा के गुणों से अवगत हो गया है लेकिन एलोवेरा ऐसे तमाम गुण अपने अंदर समेटे हुए हैं जो हमें आज भी नहीं पता है इसी से संबंधित या घरेलू नुस्खा है जिसमें आप एलोवेरा का जेल अपने मुहांसों के निशान पर लगाएं जिसे मुहासों के निशान कम होने लगेंगे।


यह नुस्खा अधिक कारगर तब होता है जब एलोवेरा का जेल शुद्ध शुद्ध जल पाने के लिए आप किसी अच्छी कंपनी का एलोवेरा जेल खरीदें लोकल एलोवेरा जेल में एलोवेरा का जेल नहीं होता है या फिर आप इसका पौधा भी लगा सकते हैं जो कि एक सबसे अच्छा ऑप्शन है।

एलोवेरा बेसन और गुलाब जल-
इस नुस्खे को बनाने के लिए सबसे पहले आपको यहां पर एक एलोवेरा लेना है और आपको इस एलोवेरा का जूस निकाल लेना है आपको यहां पर एक चम्मच एलोवेरा का जूस निकालना है। अब आपको इससे एक बाउल में डाल देना है इसके बाद आपको 2 - 4 नीम के पत्ते का पेस्ट बनाकर बाउल में डालना है।

और इसे अच्छे से mix कर लेना है। अब इसमें एक चम्मच बेसन या आटा मिला देना है। दोस्तों चेहरे पर बार-बार हो जाने वाले दाग धब्बे को हटाने के लिए एक चम्मच बेसन का प्रयोग किया है। अब इसमें दो चम्मच पानी मिला देना है जिससे यह पेस्ट थोड़ा गीला हो जाएगा।

दोस्तों यदि आप चाहे तो इसमें थोड़ा और मात्रा में गुलाब जल का इस्तेमाल कर सकते हैं जिससे इसकी smel कम हो जाएगी। अब यह देसी नुस्खा तैयार हो चुका है।

इसे इस्तेमाल करने का तरीका बेहद आसान है आप इसे सीधे अपने चेहरे पर लगाएं फिर आधे घंटे के बाद में नार्मल वाटर से अपना चेहरा धो लें। क्योंकि इसमें neem की पत्तियों का पेस्ट पड़ा है जिससे यह देसी नुस्खा काफी असरदार साबित होता है।

मेथी का face pack-
मुहासे के दाग हटाने के घरेलू उपायों के बारे में मेथी भी अहम रोल निभाती है अगर आपके चेहरे पर बहुत से मुंहासे के दाग धब्बे हैं तो मेथी काफी सहायता कर सकती है। जी हां आप मेथी के पत्तों का फेस पैक बना सकते हैं।

आप चाहे तो मेथी के बीजों को उबालकर उनका पेस्ट बना कर चेहरे के दाग धब्बों पर लगाएं। और लगभग 15 से 20 मिनट के लिए छोड़ दे। बाद में ठंडे पानी से धो लें।
 
नींबू का रस -
नींबू का रस भी काफी फायदेमंद साबित होता है इसके लिए आपको नींबू के रस को सीधा अपनी त्वचा पर अप्लाई करना है उसके बाद आधे घंटे के बाद आप चेहरा धो लें याद रहे नींबू का रस चेहरे पर अप्लाई करने के बाद में आप धूप में ना निकले 10 मिनट के बाद चेहरा
धो दें। 

उसके बाद आपको रुई की सहायता से गुलाब जल अपने चेहरे पर अप्लाई करना है नींबू का रस आपके चेहरे के दाग धब्बे तो खत्म करता ही है और मुंहासे होने की संभावना को भी काफी हद तक कम कर देता है उसके बाद में गुलाब जल का प्रयोग आपके चेहरे को गुलाबी जमा प्रदान करता है।

एलोवेरा जेल और नींबू-
एलोवेरा का जेल बड़ा ही लाभदायक है यह मुंहासे दूर भगाने वाले पौधे के नाम से भी जाना जाता है। एलोवेरा एलोवेरा जेल को चेहरे को ठीक करने के लिए जाना जाता है अगर आप प्रतिदिन दो चम्मच एलोवेरा के रस में दो चम्मच नींबू का रस मिलाकर लगाएं तो आपकी त्वचा के रंग पर भी अच्छा प्रभाव पड़ता है।

नींबू और टमाटर का रस-

दोस्तों यह मेरा आजमाया हुआ नुस्खा है नींबू और टमाटर के रस को समान मात्रा में मिलाकर आपको अपने चेहरे पर अप्लाई करना है यह मिश्रण आधे घंटे तक अपने फेस पर लगाए रखिए फिर उसके बाद में ठंडे पानी से अपने चेहरे को धो दीजिए।

इस मिश्रण को लगाने के बाद में आप धूप में ना निकले क्योंकि इसमें नींबू मिला होता है इसलिए आपके चेहरे पर लाली आ सकती है।

आधा कप सेंधा नमक-
पानी (आवश्यकतानुसार) बनाने और लगाने की विधि
आधा कप सेंधा नमक को थोड़े पानी में मिलाकर गाढ़ा पेस्ट तैयार कर लें। अब इस मिश्रण को अपने चेहरे और गर्दन पर लगाकर थोड़ी देर मालिश करें। फिर 15 से 20 मिनट के लिए इसे लगा रहने दें। उसके बाद पानी से धो लें। 

हफ्ते में कितनी बार लगाएं?
आप इसे हफ्ते में तीन बार लगा सकते हैं। क्योंकि सेंधा नमक में मैग्नीशियम होता है, जिसमें एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण होता है।

मुंहासे से बचने के असरदार उपाय (सावधानियां)-

  • दिन में कम से कम 3 बार अपना चेहरा साफ पानी से धोएं।
  • सोने से पहले अपना मेकअप हटाएं यदि मेकअप करके सोए तो झुर्रियां पड़ने की संभावना बढ़ जाती है।
  • अगर पिंपल निकले, तो उसे उसे दबाने या फोड़ने से बचना चाहिए क्योंकि नाखून के बैक्टीरिया यदि मुहांसे पर लग गए तो गंभीर परेशानी भी हो सकती है।
  • यदि आपकी त्वचा धूप के संपर्क में आने पर लाल हो जाती है तो सन बर्न क्रीम का उपयोग करें या फिर स्कार्फ बांध कर बाहर निकले।
  • स्वस्थ आहार लें, फल, हरी सब्जियों व ड्राई फ्रूट्स का सेवन करें।
  • प्रतिदिन 3 लीटर पानी अवश्य पिएं।
यह है तैलीय त्वचा की देखभाल करने का सही तरीका!
यह खाया जाता है कि कई महिलाओं को तैलीय त्वचा के कारण समस्याओं का सामना करना पड़ता है और उन्हें टी-ज़ोन यानी माथे, ठोड़ी और नाक के बीच अधिक मात्रा में तेल मिलता है।

इस क्षेत्र में छिद्र बड़े हैं, जिसके कारण यहां अधिक तेल का उत्पादन होता है। तैलीय होने के कारण मुंहासे और ब्लैकहेड्स बहुत तेजी से होते हैं।

ऑयली टी-ज़ोन समस्या से छुटकारा पाने के लिए डबल क्लींजिंग एक बेहतर विकल्प है। इसमें दो अलग-अलग प्रकार के फेशियल क्लींजर शामिल हैं, जो आपके चेहरे को अच्छी तरह से साफ करने में मदद करता है।

सबसे पहले तेल आधारित क्लींजर का उपयोग किया जाना चाहिए। यह मेकअप के साथ-साथ त्वचा की गंदगी भी दूर करता है। इसके बाद वाटर बेस्ड क्लींजर का इस्तेमाल करें। यह आपके टी-ज़ोन को तेल-मुक्त बना देगा।

मेकअप के दौरान, फाउंडेशन से पहले प्राइमर का इस्तेमाल चेहरे पर करना चाहिए। यह छिद्रों को भरता है और त्वचा को चिकना बनाता है। इसके अलावा यह तैलीय टी-ज़ोन की भी सुरक्षा करता है और छिद्रों को बंद होने से बचाता है।

अधिकांश मेकअप उत्पादों में कॉमेडोजेनिक तत्व होते हैं। ये ऐसे तत्व हैं जो त्वचा के छिद्रों को अवरुद्ध करते हैं और बिना किसी कारण के आपके ऑयली टी-ज़ोन को ख़राब करते हैं। इसलिए, अपनी त्वचा को सूखा रखने के लिए, केवल गैर-कॉमेडोजेनिक अवयवों का चयन करें।

चहरे को मॉइस्चराइज करना बहुत जरूरी है। त्वचा को मॉइस्चराइज़ करने से, वसामय ग्रंथि सक्रिय रहती है और त्वचा में संतुलित मात्रा में तेल बनता है। इसलिए हमेशा ऑयल-फ्री या पानी पर आधारित मॉइस्चराइज़र का उपयोग करें।

टोनर त्वचा के लिए काफी अच्छा माना जाता है। ज्यादातर लोग टोनर का इस्तेमाल करना भूल जाते हैं। टोनर त्वचा पर जमा गंदगी को गहरा करता है। इससे आपकी त्वचा ऑयली नहीं रहती और चेहरे पर पिंपल्स भी नहीं होते।

नोट:- ऊपर दी गई किसी भी सामग्री से अगर आपको एलर्जी है, तो उसे उपयोग करने से पहले डॉक्टर से सलाह करें। इसके अलावा, जो भी घरेलू उपाय करें, उससे पहले उसका पैच टेस्ट कर लें। अगर पैच टेस्ट के दौरान आपको खुजली या जलन जैसी समस्या होती हैै।

तो तुरंत उसे धो लें। कई बार कुछ मुंहासों के दाग के लिए डॉक्टर से सलाह लेना जरूरी होता है। यह जरूरी है कि आप पिंपल्स के दाग पर वक्त रहते ध्यान देकर उसका इलाज शुरू करवाएं और जरूरत पड़े तो त्वचा विशेषज्ञ की सलाह लें।

Thanks...

Post acchi lagi ho to share karen...

एक टिप्पणी भेजें (0)
और नया पुराने