सुन्दर पिचाई के सफलता के पीछे की राज

 

सुन्दर पिचाई के सफलता के पीछे की राज 

आपको दोस्तों आज हम एक ऐसे शख्सियत के बारे में बात करेंगे, जिन्होंने कम समय में बहुत नाम कमाया। सुन्दर पिचाई पिछले 16 साल से गूगल से जुड़े हुए हैं.  माइक्रोसॉफ्ट, क्रेडिट कार्ड से लेकर गूगल तक सभी के सीईओ भारतीय है.
credit: third party image reference

आखिर कुछ तो बात है हम भारतीयों में ओर वैसे थोड़े ही दुनिया हमारी दीवानी हो रही है. सोचिए हमारे तीन आदमी गए है उनके पास और उनको चमका रखा है. दोस्तों वीडियो को अंत तक जरूर देखे मैं आपको ऐसे सफलता के 7 नियम बताऊंगा जो आपकी जिंदगी बदल देगी. अगर हम फ़ालतू की बातें छोड़कर अपने देश की तरक्की पर लग जाए तो कहाँ से कहाँ पहुंच जाएंगे.

आज हम बात करेंगे सुन्दर पिचाई के कुछ अन-सुने रोचक तथ्य और उनके सफलता के 7 नियम आगे 

 यदि आप ज़िन्दगी से जुड़ी किसी भी बात के बारे में, किसी भी प्रॉब्लम के बारे में कुछ जानना चाहते हैं तो कृपया कमेंट करके बतायें मैं उस बारे में वीडियो जरूर बनाऊंगा। सुन्दर पिचाई भारतीय युवाओं के लिए एक प्रेरणादायक व्यक्ति हैं।

सुंदर पिचाई मूल रूप से भारतीय हैं और उनका जन्म 10 June 1972 को चेन्नई में हुआ था। इनका असली नाम पिचाई सुंदराजन है। आपको जानकारी आश्‍चर्य होगा कि सुंदर का बचपन में टेक्नोलाॅजी से लगाव बिल्कुल नही था वो अपने स्कूल की क्रिकेट टीम के कप्तान थे. क्रोम वेब ब्राउजर लांच किया और साल भर में वेब बेस्ड क्रोम ओएस भी नेटबुक्स के लिए लांच किया. 2012 में गूगल एप्स को संभाला और साल भर में एंड्रायड का पदभार भी संभाल लिया. जी-मेल, गूगल मैप एप्स बनाए, गूगल के सभी उत्पादों के लिए एंड्रायड एप भी तैयार किए. पिचाई ने 2004 में सर्च टूलबार के टीम मेम्‍बर के रूप में गूगल ज्वाइन किया था.

सुन्दर पिचाई को जब Twitter से जॉब का ऑफर मिला था, तब उनकी पत्नी अंजलि ने उन्हें गूगल ना छोड़ने की सलाह दी थी। 2020 में सुंदर पिचाई की कुल संपत्ति 10 हजार करोड़ रुपए से अधिक है. अब मै आपको बताउंगा गूगल सीईओ सुंदर पिचाई द्वारा सफलता के 7 नियम जिसे वो अपने डेली लाइफ में अपनाया है. 1 भविष्य को ध्यान में रखते हुये वर्तमान में योजना बनायें .

अभी आप जो भी कर रहे हैं उसका सीधा असर आपके आने वाले समय यानि भविष्य पर पड़ेगा इसलिए हमेशा परिवर्तनात्‍मक रहें क्योंकि यह दुनियाँ बदलती रहती हैं और भविष्य के बारे में सोच कर आगे बढ़े। 2. अपने सपनों का पीछा करें . आपके सपने तक पहुँचना कठिन हो सकता है, पर संगठन, प्रेरणा और आत्म- अनुशासन के साथ आप इसे कर सकते हैं।

सुंदर पिचाई कहते हैं की आप अपने सपनों का पीछा तब तक करते रहें जब तक वो पूरे न हो जायें। 3 कम्फर्ट जोन छोड़ दें . ब आप अपने कम्फर्ट जोन से बाहर निकलने के बारे में सोचते हैं तो आप असुरक्षित महसूस करते है। सुंदर पिचाई कहते हैं यदि आपको कुछ पाना है तो अपने कम्फर्ट जोन से बाहर आना होगा।

4. विचारों के शक्ति . विचार बहुत मायने रखते हैं। इस पूरी दुनियाँ में जितनी भी महान खोजें और बदलाव हुआ है वो पहले केवल एक विचार ही था। आप जो भी कर रहे हैं या जो भी करने वाले हैं वो आपके विचारों के कारण ही हैं। इसलिए विचारों की शक्ति को पहचाने और अपने अंदर महान विचारों को जन्म दें
। 5 जोखिम उठाओ . जब तक रिस्क नहीं लेंगें तब तक बड़ा नहीं कर पाएंगे। जोखिम लेने में सहज रहें। जैसा कि जैक कैनफील्ड ने कहा है, “जो आप चाहते हैं वह सब डर के दूसरी तरफ है। 6 आशावादी बनो . हमेशा आशावादी रहना चाहियें। अपने काम के प्रति भावुक रहें। आसपास की सभी चीजों को भूल जाओ। सकारात्मक रहें और कार्य के प्रति आश्वस्त रहें। धैर्य रखें। सब कुछ आप करते हैं, आपको शीर्ष पर ले जाएगा। आप एक सफल व्यक्ति होंगे। अपने भविष्य को लेकर आशान्वित रहें। 7 आविष्कार करते रहें .

 नई चीजों का आविष्कार करते रहें। ताकि आपको बढ़ने के नए उपाय मिलेंगे। सुनिश्चित करें कि आप भविष्य के लिए एक महान हिस्सा बना रहे हैं। मित्रों ! उम्मीद करता हूँ यह  ज़रूर पसंद आया होगा. कृपया कमेंट के माध्यम से अवश्य बतायें, आपके किसी भी प्रश्न एवं सुझावों का स्वागत है।
और नया पुराने